पटनाः भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने आज कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन की खबर सुनकर उन्हें लगा कि वह ‘अनाथ’ हो गये हैं क्योंकि उन्होंने उनके अभिभावकत्व में ‘अच्छी राजनीति की कला’ सीखी थी।

पटना साहिब के सांसद ने वाजपेयी को ‘पिता सरीखे’ बताया। वाजपेयी लंबी बीमारी के बाद कल शाम दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में चल बसे। सिन्हा 1999-2004 के दौरान वाजपेयी की अगुवाई वाली राजग सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे थे।

सिन्हा ने ट्वीट किया, ‘‘अति श्रद्धेय और सम्मानित संस्थान हमें छोड़कर चले गये, पिता सरीखी शख्सियत हमसे बिछुड़ गयी। मुझे महसूस होता है कि सही मायने में मैं अनाथ हो गया… हम सदैव उन्हें याद करेंगे और हमें जीवन के सही मार्ग के संदर्भ में सदैव उनके मार्गदर्शन की कमी खलेगी। मैं उनके परिवार और प्रियजनों के प्रति हार्दिक संवेदना प्रकट करता हूं।’’

सिन्हा ने मुम्बई से फोन पर कहा, ‘‘नानाजी देशमुख ने मुझे राजनीति में प्रशिक्षण के लिए वाजपेयीजी और आडवाणीजी के पास भेजा था। दोनों ने ही मुझे प्यार दिया और मुझे पूरे जीवन अपना आशीर्वाद दिया।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here